You are here
Home > Blogs > [Hindi] What is a Turbocharger and How Does It Work?

[Hindi] What is a Turbocharger and How Does It Work?

what-is-turbocharger-in-hindi

हम सब ने Turbocharger के बारे में सुना है, टर्बोचार्जर एक वाहन के इंजन से जुड़ा एक उपकरण है जिसे इंजन की  दक्षता में सुधार करने और प्रदर्शन को बढ़ाने के लिए बनाया  गया है। यही कारण है कि कई ऑटो निर्माता अपने वाहनों को टर्बोचार्ज इंजन चुन रहे हैं।

Advertisement

Turbocharger काम कैसे करता है-

Turbocharger का सिद्धांत बहुत ही सरल है इसमें एक टर्बो एक शाफ्ट से जुड़कर दो हिस्सों से बना होता है। एक तरफ, हॉट एग्जॉस्ट गेस टरबाइन को स्पिन करता है जो दूसरे टरबाइन से जुड़ा होता है जो कि हवा को चूसता है और इसे इंजन में कंप्रेस करता है। यह कम्प्रेस हवा, इंजन को अतिरिक्त शक्ति और दक्षता देती है क्योंकि Turbocharger की वजह से दहन कक्ष में अधिक हवा जाती  है, इसलिए अधिक शक्ति के और दक्षता के लिए  लिए Turbocharger प्रयोग किया जाता है 

Turbocharger के लाभ-

टर्बो चार्जर का मुख्य लाभ यह है की यह ज्यादा Fuel Efficient है इसके अलावा यह उत्सर्जित हुई गैसों को प्रयोग में लेता है अतः इसके लिए अलग से पॉवर की ज़रूरत नही पड़ती, एक टर्बो चार्ज वाहन वातावरण में कम CO2 उत्सर्जन करता है इसके अलावा टर्बोचार्ज इंजन कम आरपीएम में ज्यादा शक्ति और टार्क प्रदान करता है  

अतिरिक्त शक्ति के अलावा, Turbocharger को कभी-कभी ऐसे उपकरणों के रूप में संदर्भित किया जाता है जो “मुफ्त बिजली” प्रदान करते हैं क्योंकि एक सुपरचार्जर के विपरीत, इसे चलाने के लिए इंजन की शक्ति की आवश्यकता नहीं होती है। इंजन से निकलने वाली गर्म और विस्तार करने वाली गैसें एक टर्बोचार्जर की शक्ति होती है

जब हम वाहन को अधिक ऊंचाई पर ले जाते  हैं तो ऊंचाई जितनी अधिक होती है, उतने ही पतले वातावरण के कारण ऑक्सीजन प्राप्त करना कठिन हो जाता है। इस स्थिति में वाहन की कार्यक्षमता में प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है  एक टर्बोचार्जर को दूर करता है जाता है क्योंकि यह वातावरण से  ऑक्सीजन को खीचकर  इंजन के दहन कक्ष में ले जाता है

अतः एक टर्बो चार्ज वाहन साधारण वाहन की तुलना में अधिक Fuel Efficient होता है और साथ ही साथ इसमें CO2 जैसी हनिकारक गैसों का उत्सरजन भी कम होता है

टर्बोचार्जर्स के 2 मुख्य नुकसान हैं। सबसे पहला नुक्सान गर्मी है क्योंकि एक टर्बो गर्म निकास गैसों द्वारा संचालित होता है, यह बहुत गर्म हो जाता है। कभी-कभी टर्बोचार्जर स्वयं लाल चमकना शुरू कर सकता है लेकिन निश्चित रूप से यह रोजमर्रा की ड्राइविंग स्थितियों में नहीं होता है; ऐसा तब होता है जब इंजन लगातार समय के लिए अपनी सीमा से ज्यादा काम करता है 

2 thoughts on “[Hindi] What is a Turbocharger and How Does It Work?

Comments are closed.

Top